जनादेश

सांभर झील बनी मौत की झील जो आपसे कहीं सुसंस्कृत है! भाजपा और तृणमूल दोनों का रास्ता आसान नहीं कश्मीरी नेताओं का यह कैसा उत्पीडन ! शुक्रिया ,पोगापंथ से लड़ने वाले नौजवानों ! पित्त से बढ़ता है बीपी,आंवला खाएं! बाबा रामदेव का ट्विटर पर क्यों हुआ विरोध ? जेएनयू के छात्र यूं नहीं सड़क पर हैं गुदड़ी के लाल थे वशिष्ठ नारायण सिंह नहीं रहे अब्दुल जब्बार भाई नहीं रहे अब्दुल जब्बार भाई ध्यान से देखिये ,ये फोटो देश के महान गणितज्ञ की है ! नेपाल में शुरू हुआ चीन का विरोध जेएनयू में यह सब क्यों हो रहा है. कानून के राज को 'एक झटका' यह फैसला दिक्कत पैदा कर सकता है ! मेरे मित्र टीएन शेषन ! मोदी सरकार के समर्थन का यह कीमत मिली - तवलीन फैसला विसंगतियों से भरा- भाकपा (माले) तथ्यों से धराशाही हुए सियासत के तर्क!

यूपी के स्कूल में अब नून रोटी !

मिर्जापुर .नून रोटी की कहावत उत्तर प्रदेश में सच हो रही है .उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर के हनौता के सियूर प्राइमरी स्कूल में गुरुवार को बच्चों को मिड डे मील में खाने के लिए रोटी दी गई.पर सिर्फ रोटी नहीं उसके साथ नमक भी था .हालांकि उम्मीद तो दाल सब्जी ,चोखा भरता की भी रहती ही  है .मामला उछला तो कलेक्टर ने जांच का आदेश तो दे ही दिया .

जिले के कलेक्टर अनुराग पटेल के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेशानुसार, सभी जिलों में मिड डे मील का मेन्यू पहले से तय है. कुछ दिनों के अंतर पर बच्चों को दूध और फल भी दिए जाते हैं. लेकिन ये लापरवाही स्कूल के शिक्षक और सुपरवाइजर की वजह से हुई है.जिसे निलंबित कर दिया गया है .हालांकि बच्चों ने बताया कि उन्हें पहले रोटी के साथ सब्जी मिलती थी पर पहली बार नमक दिया गया .

जबकि स्कूल में खाना पकाने वाली महिला ने बताया कि उसे स्कूल में सभी बच्चों के लिए खाना बनाने के लिए सिर्फ आधा किलो आलू दिया जाता है.स्कूल के सभी बच्चों को खाना खिलाने के लिए मुझे आधा किलो आलू, नमक और कुछ मसाले दिए गए थे. इसलिए मैंने रोटियां बनाईं और नमक के साथ परोस दीं. फोटो -साभार 

Share On Facebook

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :