जनादेश

आंदोलनकारी या अतिक्रमणकारी ओली के बाद प्रचंड की भी राह आसान नही खामोश हो गई सितारों को उंगली से नचाने वाली आवाज कोरोना दौर में मंदिर का यह चरणामृत पीजिए पत्रकारिता ने सवाल पूछने बंद कर दिये! रोजगार छिना तो बढ़ गया बाल विवाह ! दल बदल की पूरी कीमत वसूली महाराज ने यह माल्या का राजनीतिक उपयोग नहीं है? बिहार से फिर होगा पलायन घमासान तो एनडीए में भी कम नहीं मौसम है रोज खाइए आम एक थे किशन पटनायक थाने में लगातार हो रही है हत्या फटकार लगायें प्रसार भारती को पंद्रह दिन में बंट जाए राशन कार्ड सरकार लोकतंत्र की हत्या पर आमादा - अजय कुमार लल्लू तो ऐसे हुई बिहार चुनाव की औपचारिक घोषणा ? किसान नेता अखिल गोगोई कब रिहा होंगे विधान पार्षदों को सार्टिफिकेट दिया सरकार बचाने की जुगाड़ में लगे ओली