पगड़ी संभाल जट्टा आंदोलन याद है

दुनिया के सबसे बड़े कोविड टीकाकरण की शुरुआत पत्रकार पर भड़के नीतीश कुमार डिंपल यादव का जन्म दिन मनाया गया हिंदुत्व का नया चेहरा बनते योगी ! किसानों के समर्थन में उतरी कांग्रेस अमेरिकी पार्लियामेंट पर हमला और भारत बर्फ़ पर गाड़ी और याद आई नानी ! तितलियों का काम भी हम ही करेंगे ? किसान कानून-खतरे में सुप्रीम कोर्ट की साख डेमोक्रेटिक पार्टी ट्विटर, फ़ेसबुक के सामने बौनी पड़ गई ! ब्लू लैगून की ब्रुक शील्ड्स याद है ? मध्य प्रदेश में ये क्या हो रहा है ? आज खिचड़ी है लूसी कुरियन परिचय की मोहताज नहीं वूमेन हेल्पलाइन को बंद करने पर सरकार से जवाब तलब रूपेश सिंह हत्याकांड पर सीएम नीतीश सख्त महान दल समाजवादी पार्टी के साथ कभी छुपा कर पढ़ते थे कुशवाहा कांत की किताबें समाजवादी युवा घेरा कार्यक्रम आयोजित हुआ बेतिया माडल के चर्चे

पगड़ी संभाल जट्टा आंदोलन याद है

राजकुमार सोनी

लगभग सौ साल पहले 1907 में जब अंग्रेजों ने किसानों की जमीनों को औने- पौने दाम में हड़पने के लिए दो आब बारी एक्ट, पंजाब लैंड कॉलोनाइजेशन एक्ट और पंजाब लैंड एलियनेशन एक्ट बनाया तब भगत सिंह के चाचा सरदार अजित सिंह की अगुवाई में पगड़ी संभाल जट्टा आंदोलन प्रारंभ हुआ था. इस आंदोलन में एक पत्रकार बांके दयाल का एक गीत पगड़ी संभाल जट्टा गांव- गांव और गली- गली में बजता था.

आज एक बार फिर जब किसान आंदोलन उफान पर है तब यह गीत देश के काले अंग्रेजों के खिलाफ और अधिक प्रासंगिक हो उठा है. पगड़ी संभाल जट्टा गीत का इस्तेमाल भगतसिंह के नाम पर बनने वाली कई फिल्मों में किया गया है. इस वीडियो में हमने द लीजेंड ऑफ भगत सिंह फिल्म के गीत का उपयोग किया है. इस गीत को समीर ने लिखा है और संगीत एआर रहमान का है. अपना मोर्चा डॉट कॉम किसान आंदोलन के साथ है और यह मानता है कि एक दिन काले अंग्रेजों के होश ठिकाने आ जाएंगे. कोई  रात कितनी भी काली हो ज्यादा देर तक काली नहीं रहती.


  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :