न्याय के नाम पर सवाल बन गए हैं संजीव भट्ट

पार्टी की खिचड़ी और सरकार की तहरी ! नशामुक्ति ब्रांड एंबेसडर बन गयी हैं ज्योति पासवान पर स्वास्थ्य मंत्री को नहीं मिला कोरोना का टीका लक्ष्मण ने कहा वैक्सीन से कोई दिक्कत नहीं आई चंपारण से खादी को मंत्र मान लिया दुनिया के सबसे बड़े कोविड टीकाकरण की शुरुआत पत्रकार पर भड़के नीतीश कुमार डिंपल यादव का जन्म दिन मनाया गया हिंदुत्व का नया चेहरा बनते योगी ! किसानों के समर्थन में उतरी कांग्रेस अमेरिकी पार्लियामेंट पर हमला और भारत बर्फ़ पर गाड़ी और याद आई नानी ! तितलियों का काम भी हम ही करेंगे ? किसान कानून-खतरे में सुप्रीम कोर्ट की साख डेमोक्रेटिक पार्टी ट्विटर, फ़ेसबुक के सामने बौनी पड़ गई ! ब्लू लैगून की ब्रुक शील्ड्स याद है ? मध्य प्रदेश में ये क्या हो रहा है ? आज खिचड़ी है लूसी कुरियन परिचय की मोहताज नहीं वूमेन हेल्पलाइन को बंद करने पर सरकार से जवाब तलब

न्याय के नाम पर सवाल बन गए हैं संजीव भट्ट

विक्रम सिंह चौहान 

संजीव भट्ट की पत्नी और उनका परिवार संजीव की रिहाई के लिए कभी हाई कोर्ट तो कभी सुप्रीम कोर्ट का चक्कर काट रहे हैं.शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने फिर से बेल एप्लिकेशन को एक तरह से रिजेक्ट करते हुए गुजरात सरकार से 4 हफ़्तों में जवाब मांगा है.अब सुनवाई मई के फर्स्ट वीक में होगा तब तक चुनाव भी खत्म हो जाएंगे.


इससे पहले गुजरात हाई कोर्ट ने भी 4 हफ़्ते का समय सरकार को दिया था.यह न्याय व्यवस्था नहीं न्यायपालिका के नाम पर मज़ाक है.संजीव भट्ट को अज्ञात जगह रखा गया है.उनके साथ किसी अमानवीय प्रताड़ना की पूरी संभावना है.कोर्ट इस नज़र से देख ही नहीं रहा है कि उस इंसान के साथ ऐसा व्यवहार अचानक से क्यों किया जा रहा है.

1996 नारकोटिक्स के मनगढ़ंत प्रकरण को आधार बनाकर उन्हें गिरफ्तार किया गया था.मोदी संजीव से व्यक्तिगत दुश्मनी निकाल रहे हैं.कहा जा रहा था संजीव ने साहब की कुछ ऐसी जानकारी निकाली है जो उनका राजनीतिक करियर खत्म कर देगा,वे सही समय के इंतजार में थे.इससे पहले ही उन्हें पकड़ लिया गया.

एक ईमानदार आईपीएस जिन्होंने गुजरात दंगो पर एफिडेविट देकर कहा था,"मोदी ने हिंदुओं को गुस्सा निकालने देने कहा था' के साथ फ़ासिस्ट सरकार दुश्मनी निकाल रही है.दूसरी ओर देश की न्यायपालिका तमाशबीन बनी हुई है. कल को संजीव भट्ट के साथ अगर कुछ गलत होता है तो इसका जिम्मेदार सिर्फ मोदी नहीं देश का सुप्रीम कोर्ट, जस्टिस रंजन गोगोई भी होंगे.

  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :