ताजा खबर
बिगड़े जदयू-राजद के रिश्ते नीतीश ने क्यों बनायी अखिलेश से दूरी ! पूर्वांचल में तो डगमगा रही है भाजपा सीएम नहीं तो पीएम बनेंगे !
पहली अग्नि-परीक्षा में सफल हुए निशंक

राजेन्द्ग जोशी

देहरादून,। विकास नगर विधानसभा का प्रतिष्ठापूर्ण उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज कर जहां कांग्रेस की इस परम्परागत सीट को अपनी झोली में डालने में कामयाबी हासिल कर ली, वहीं प्रदेश का मुख्यमंत्री डॉ० रमेश पोखरियाल निशंक ने अपनी पहली अग्नि परीक्षा में सफलता अर्जित कर अपने करिश्मे को बरकरार रखा। राजनीतिक विश्लेषक इस चुनाव परिणाम को सरकार का दो माह का काम-काज पर जनता का इनाम का रूप में देख रहे हैं।
 विकास नगर उपचुनाव परिणाम का बाद जहां कांग्रेसी शिविर में सन्नाटा पसर गया वहीं भाजपाई खेमे में जश्न का माहौल है। प्रदेश का मुख्यमंत्री डा० रमेश पोखरियाल निशंक का राजनीतिक भविष्य को लेकर इस उपचुनाव को बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा था। इस चुनाव में प्रत्यक्षत: प्रदेश का मुख्यमंत्री डा० रमेश पोखरियाल निशंक के साथ ही प्रदेश भाजपा की प्रतिष्ठा पूरी तरह दांव पर थी। हालांकि मतदाताओं का बीच कुलदीप कुमार परासर एक अनजान सा चेहरा था तथापि प्रदेश का करिश्माई मुख्यमंत्री डॉ० रमेश पोखरियाल निशंक का ऊर्जावान नेतृत्व का बल पर कुलदीप कुमार जीत का सेहरा पहनने में कामयाब रहे। यह जीत सही मायनों में डॉ० निशंक की है। जबकि डा० निशंक जीत का श्रेय भाजपा कार्यकर्ताओं तथा विकासनगर की जनता को दे रहे हैं। 
 जिस तरह प्रदेश का मुख्यमंत्री का पद संभालते ही डॉ० निशंक एक का बाद एक उपलब्धियां अर्जित करते रहे उससे सहज ही यह अनुमान लगाया जा रहा था कि वह बड़ी से बड़ी चुनौतियों का सामना करने में सक्षम हैं। विकास नगर विधानसभा क्षेत्र से उपचुनाव में जीत दर्ज करना भाजपा की एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। ऐसे में जबकि यह सीट परम्परागत रूप से कांग्रेस की रही है। कावल २‚‚७ का विधानसभा चुनावों में मुन्ना सिंह चैाहान जब भाजपा का टिकट से इस सीट से लड़े तो यह सीट भाजपा की हो गई। जबकि मुन्ना को टिकट मिलना भी एक एक्सीडेंट था क्योंकि भाजपा इन्ही कुलदीप कुमार को टिकट देना चाहती थी लेकिन तकनीकी कारणों से टिकट मुन्ना सिंह के नाम आ गया था। मुन्ना सिंह चौहान का भाजपा व विधानसभा की सदस्यता से त्यागपत्र देने का बाद यह सीट फिर खाली हो गई और अब इस सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा ने अपना परचम लहरा दिया।
 विकास नगर उपचुनाव में जहां तमाम विपक्षी पार्टियों ने भाजपा को हराने का लिए पूरी ताकत झोंक डाली भी वहीं डॉ० निशंक ने अपनी राजनीतिक सूझ-बूझ व बुद्धि चातुर्य का परिचय देते हुए विरोधी दलों का मंसूबों पर पानी फेर दिया। यही नहीं भाजपा संगठन का अंतर्कलह व भीतरघात से पार पाने में भी डॉ० निशंक सफल रहे , इतना ही नहीं भाजपा ने कांग्रेस के भीतरघात का भी पूरा फायदा इस चुनाव में लिया । पहली बार भारतीय जनता पार्टी एकजुट होकर डॉ० निशंक का नेतृत्व में विकासनगर उपचुनाव में खम ठोककर खड़ी रही ।
 पार्टी संगठन में इसी एकजुटता का परिणाम है कि विकास नगर विधानसभा सीट से लोकसभा चुनाव में १९ हजार वोटों से पीछे रहने वाली भारतीय जनता पार्टी ने न कावल इस विधानसभा उपचुनाव में १९ हजार वोटों की कमी को पाटा बल्कि ५९६ वोटों की बढ़त हासिल कर अभूतपूर्व विजय हासिल की।
 इस उपचुनाव का जरिये जनता ने डॉ० निशंक को जीत का पहला तोहफा भेंट किया है। साथ ही इस अभूतपूर्व विजय ने डॉ० निशंक को प्रदेश का सर्व स्वीकार्य नेता सबित कर दिया है। मुख्यमंत्री बनने का बाद डॉ० निशंक का करिश्माई नेतृत्व में प्रदेश की जनता में जो आशा का संचार हुआ उस उत्साह व ऊर्जा का प्रतिफल इस प्रचण्ड जीत का रूप में सामने आया।
 दरअसल इस जीत का पीछे डॉ० रमेश पोखरियाल निशंक का दो माह का कामकाज और उनके सादगीपूर्ण व्यवहार को भी मुख्य कारण माना जा रहा है। डॉ० निशंक ने सूबे का निजाम का पद संभालते ही जिस तरह प्रदेश की बुनियादी सुविधाओं को २४ घंटे का अंदर पटरी पर लाने का काम किया, उससे आम जनमानस में इस सरकार का प्रति विश्वास बढ़ता गया। लोगों ने सरकार का कामकाज का निष्पक्षता से मूल्यांकन कर सरकार का पक्ष में स्पष्ट जनादेश दिया है। अब विधानसभा में भाजपा का कुल ३६ सदस्य हो जायेंगे।
 विकासगनर उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी कुलदीप कुमार की विजय को भाजपा का पूर्व राज्य सभा सांसद मनोहर कांत ध्यानी, प्रदेश महामंत्री अजय तथा पूर्व सह मीडिया प्रभारी अजेंद्ग अजय ने सरकार का कामकाज पर जनता की मुहर बताया है। इनका कहना है कि विकासनगर चुनाव परिणामों ने साबित कर दिया है कि आम जनमानस में प्रदेश सरकार की रीतियों-नीतियों का प्रति विश्वास बढ़ा हैें। जनता ने प्रदेश सरकार का कामकाज का निष्पक्ष मूल्यांकन कर स्पष्ट जनादेश दिया और भाजपा सरकार की स्थिरता की खातिर अन्य किसी तथ्य को नकार दिया है। उन्होंने कहा कि इस प्रतिष्ठापूर्ण उप चुनाव में भाजपा की विजय एक बड़ी उपलब्धि है। इस विजय से पार्टी कार्यकर्त्ताओं में एक नये उत्साह का संचार हुआ है। उन्होंने कहा कि चुनाव का दौरान कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों ने चुनाव परिणामों को अपने पक्ष में करने का लिए कई हथकंडे अपनाये। मगर सब धरे का धरे रह गये और विपक्षियों को मुँह  की खानी पड़ी।
 दरअसल विकास नगर उपचुनाव परिणाम डॉ० रमेश पोखरियाल निशंक का दो माह का कार्यकाल पर जनता द्बारा दिए गए इनाम का रूप में देखा जा रहा है। इस परिणाम का बाद डॉ० निशंक की आगे की राह पूरी तरह निष्कंटक हो गई। इस जीत से 'मिशन २‚१२ फतह’ का लक्ष्य भी आसान हो गया है। राजनैतिक गलियारों में चर्चा है कि अब निशंक खुलकर बैटिंग करेगे। 
email ईमेल करें Print प्रिंट संस्करण
  • जहां पत्रकारिता एक आदर्श है
  • जहां आये कामयाब आये
  • नामवर की नियति
  • चिड़िया ते बाज तुड़वाऊं?
  • प्रभाष जोशी और इंडियन एक्सप्रेस परिवार
  • एक ऋषि की यात्रा का अंत
  • असली मैदान तो यूपी बनेगा
  • राजकाज
  • भगतों की चांदी है
  • मेरठ के बांके!
  • बाबरी विध्वंस की आयी याद
  • इतिहास में उपेक्षित तिलका मांझी
  • आखिरी पड़ाव गोमोह जंक्शन
  • संगम के अखाड़े में लेफ्ट-राइट
  • एक थे लोकबंधु राजनारायण
  • अपनी जमीन ही नसीब हुई
  • रवीश के सामाजिक सरोकार
  • गिरोह क्यों कहते हैं
  • ई राजेंद्र चौधरी कौन है ?
  • मीडिया में धूमते चेहरे
  • Post your comments
    Copyright @ 2016 All Right Reserved By Janadesh
    Designed and Maintened by eMag Technologies Pvt. Ltd.