ताजा खबर
दो रोटी और एक गिलास पानी ! इस जुगलबंदी का कोई तोड़ नहीं ! यह दौर है बंदी और छंटनी का मंत्री की पत्नी ने जंगल की जमीन पर बनाया रिसार्ट !
केरल में वाम दलों को चुनौती दे रही हैं मायावती

अंजू सहाय
फोटो-अरुण कुमार सिन्हा 
तिरूअनंतपुरम, अप्रैल। केरल की इस राजधानी में गर्मी बढ़ती जा  रही है। पर राजनैतिक गर्मी के आगे उमस भरी गर्मी फीकी पड़ी हुई है। वाम दलों के इस गढ़ में इस बार बहुजन समाज पार्टी ने डा. नीला लोहितादसन नादर को खड़ा कर सभी का राजनैतिक समीकरण बिगाड़ दिया है। नादर का मुकाबला कर रहे हैं कांग्रेस के शशि थुरूर। ये वही थुरूर हैं जो संयुक्त राष्ट्र संघ में महासचिव का चुनाव हार गए थे और आज यहां उसी मुद्दे को लेकर चर्चा में भी हैं। थुरूर अपनी मातृ भाषा मलयालम भी ठीक से नहीं बोल पाते हैं। ऐसे में उन नाराज कांग्रेसियों को साथ लेकर चलना उनके लिए अलग चुनौती बनी हुई है जो तिरूअनंतपुरम से टिकट के इंतजर में थे। दूसरी तरफ  भाकपा के मौजूदा सांसद की राजनैतिक स्थिति काफी कमजोर मानी ज रही है।
ऐसे में बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार के रूप में नादर को काफी उम्मीदें हैं। नादर ने कहा-जो यहां के सांसद रहे हैं, उन्होंने क्षेत्र की सुध नहीं ली। कांग्रेस ने बाहरी उम्मीदवार खड़ा कर दिया है जिस पर अमेरिका के एजंट होने का आरोप लगता रहा है। ऐसे में यहां के समीकरण हमारे पक्ष में हैं। गौरतलब है कि नादर बिरादरी को लेकर यहां काफी अरसे से अन्य राजनैतिक दल आरोपों के घेरे में रहे हैं। तिरूअनंतपुरम और आसपास में नादर बिरादरी की संख्या अच्छी-खासी है लेकिन वाम मोर्चे से लेकर कांग्रेस तक में इनकी सुध नहीं ली। इस बार मायावती ने अपनी सोशल इंजीनियरिंग के चलते नादर को उम्मीदवार बनाया है। दलित वोटों के साथ वे इस बार बसपा का वोट बैंक बढ़ाने ज रहे हैं। इसके अलावा समूचे केरल में मायावती ने पांच मुसलिम उम्मीदवारों को खड़ा कर वाम मोर्चे को कड़ी चुनौती दे दी है। गौरतलब है कि पिछले चुनाव में बहुजन समाज पार्टी ने राज्य की १४ सीटों पर चुनाव लड़ी थी और उसे कुल ७४ हजर ६५६ वोट मिले थे जो कुल पड़े वोटों का 0.४९ फीसदी है। ऐसे में इस बार वह अन्य दलों के लिए नई चुनौती बन कर उभर रही है।

email ईमेल करें Print प्रिंट संस्करण
  • तिकरित में फंसी नर्से
  • तमिलनाडु के अच्छे दिन
  • तमिलनाडु - जनता के पांच सवाल
  • राहुल गांधी ने यूपी का प्रचार दक्षिण में किया
  • Post your comments
    Copyright @ 2016 All Right Reserved By Janadesh
    Designed and Maintened by eMag Technologies Pvt. Ltd.