जनादेश

दक्षिणपंथी उग्रवाद के उभार पर जताई चिंता कारोबारियों को मार दिया अब कश्मीर में सड़ रहे हैं सेब ! पूरे देश का बेटा है अभिजीत -निर्मला बनर्जी हजरतगंज का यूनिवर्सल ! राजे रजवाड़ों से मुक्त होती यूपी कांग्रेस अल्लामा इकबाल का नाम सुना है साहब ! श्री हरिगोबिंद साहिब का संदेश मोदी सरकार के ‘महत्वाकांक्षी जिलों’ का सच समुद्र तट पर कचरा ! समुद्र तट पर शिल्प का नगर दर्शक बदल रहा है-मनोज बाजपेयी जेपी लोहिया पर कीचड़ उछालने वाले ये हैं कौन ? राष्ट्रवाद की ऐसी रतौंधी में खबर कैसे लिखें ! राजस्थान में गहलोत और पायलट फिर आमने सामने पहाड़ का वह डाकबंगला गठिया से घबराने की जरूरत नहीं-डा कुशवाहा राजकुमार से सन्यासी तक का सफर क्या थी कांशीराम की राजनीति ! अब भाजपा के निशाने पर नीतीश कुमार हैं बीएसएनएल की बोली लगेगी ,जिओ की झोली भरेगी!

पासवान ने दलितों के लिए जीवन लगा दिया !

नई दिल्ली .केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष राम विलास पासवान की जीवनी प्रकाशित होने जा रही है जिसे वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप श्रीवास्तव ने लिखा है. यह राम विलास पासवान की पहली विस्तृत जीवनी है. इस किताब  को नवंबर 2019 में प्रकाशित किया जाएगा.

यह पुस्तक वर्तमान भारत के एक कद्दावर राजनेता की एक बांधकर रखनेवाली जीवनी है जिसमें लेखक ने उनके बचपन, अनेक कठिनाइयों को पारकर हुई उनकी शिक्षा-दीक्षा और उनके निजी जीवन से जुड़े अन्य तथ्यों के साथ आधी सदी से ज्यादा के राजनीतिक करियर का लेखाजोखा प्रस्तुत किया है जिस दरम्यान पासवान ने इस देश के राजनीतिक इतिहास में महत्वपूर्ण भूमिकाओं का निर्वहन किया. शोधपरक और गहरे साक्षात्कारों पर आधारित इस पुस्तक में श्रीवास्तव एक ऐसे राजनेता के जीवन की प्रवाहमय किस्सागोई पेश करते हैं जो जिसने अपनी पूरी जिंदगी दलित-पीड़ित जनता और समाजिक न्याय की राजनीत को समर्पित कर दी.


पेंगुइन रैंडम हाउस की एडिटर-इन-चीफ़, लैंग्वेजेज, वैशाली माथुर कहती हैं, ‘आज के दौर में ज़मीन से उठकर शिखर तक पहुंचने वाले राजनेता कम ही हैं जिन्होंने इतनी लंबी एक बेदाग पारी खेली है.एक साधारण से परिवार से आनेवाले राम विलास पासवान जिन्होंने अपने जीवन में देश की अहम राजनीतिक घटनाओँ में हिस्सा लिया और उसके नज़दीक से गवाह बने, उनकी जीवनी पाठकों अवश्य ही प्रेरित करेगी और राजनीति के अंत:पुर का परिचय करवाएगी. यह किताब राजनीति शास्त्र ही नहीं बल्कि आधुनिक भारत के इतिहास का भी एक अहम दस्तावेज है.’

पुस्तक के लेखक और वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप श्रीवास्तव कहते हैं, ‘राम विलास पासवान देश के वरिष्ठ नेताओं में से एक हैं जिन्होंने दलित-पीड़ित जनता और हाशिए पर रहे लोगों के लिए अपना पूरा जीवन लगा दिया. वे जिस भी विभाग में रहे उनकी नीतियों के केंद्र में दलित, पिछड़े और अल्पसंख्यकों के हित व उनका विकास उनकी प्राथमिकता रही है. ये साधारण बात नहीं है कि हाजीपुर ने उन्हें कई-कई बार लोकसभा में चुनकर भेजा. उनकी जीवनी देश की आज़ादी के बाद के इतिहास का एक जीवंत दस्तावेज भी है. ’ वे आगे कहते हैं,‘मुझे इस बात का आश्चर्य है कि एक इतने लोकप्रिय, वरिष्ठ और समाजिक न्याय की राजनीति के लिए समर्पित नेता की जीवनी अभी तक नहीं लिखी गई. उनके बारे में न के बराबर लिखा गया. यह पुस्तक उसी दिशा में एक प्रयास है.’

Share On Facebook

Comments

1990 ?? ??? ??, ???????? ?????? ?? ??????? ??? ??? ?? ! ?? ??? ????? ????? ??? ?? ????? ????? ?? ??????? ??? ???? ??? ??? ??? ?? ????? ?????? ?? ??? ???? ??? ?? , ???? ??? ??? ??? ??, ?? ???? ??? ??? ?? ??? ??, ?????? ?? ???? ??, ???? ????? ??? ?? ! ????? ???? ???? ?? ! ?????? ???? ?? !! ?? ??? ???? ??? ?? ???? ??? ????? ?? ???? ?? ??? ?? ?? ??? ???? ??? ?? ? ????? ?????? ?? ???? ???? ????? ???? ?? ??? ??? ?? ? ???? ?? ????? ??? ????, ???, ??? ??? ?? ??? ???? ! ??? ??? ??? ?? ???? ???? ?? ??? ??? ?? ????? ???? ?? ?????? ?? ?? ???? ?? ??? ?? ! ?? ??? ? ?? ???? ??? ??, ? ??? ?? ????? ??? ??, ??? ??? ???? ?? ??, ?? ?? ???????? ?????? ?? ???? ?? ????? ???? ?? ????? ??? ?? ?? ?? ????? ??? ???? ???? ???? ?? ?? ???? ??? ?? "??? ?? ?? ??? ???? ????? ??? ??? ???? ?????? ?? ?????? ??" ???????? ???????

Replied by radhakishan9@gmail.com at 2019-10-04 03:20:45

1990 ?? ??? ??, ???????? ?????? ?? ??????? ??? ??? ?? ! ?? ??? ????? ????? ??? ?? ????? ????? ?? ??????? ??? ???? ??? ??? ??? ?? ????? ?????? ?? ??? ???? ??? ?? , ???? ??? ??? ??? ??, ?? ???? ??? ??? ?? ??? ??, ?????? ?? ???? ??, ???? ????? ??? ?? ! ????? ???? ???? ?? ! ?????? ???? ?? !! ?? ??? ???? ??? ?? ???? ??? ????? ?? ???? ?? ??? ?? ?? ??? ???? ??? ?? ? ????? ?????? ?? ???? ???? ????? ???? ?? ??? ??? ?? ? ???? ?? ????? ??? ????, ???, ??? ??? ?? ??? ???? ! ??? ??? ??? ?? ???? ???? ?? ??? ??? ?? ????? ???? ?? ?????? ?? ?? ???? ?? ??? ?? ! ?? ??? ? ?? ???? ??? ??, ? ??? ?? ????? ??? ??, ??? ??? ???? ?? ??, ?? ?? ???????? ?????? ?? ???? ?? ????? ???? ?? ????? ??? ?? ?? ?? ????? ??? ???? ???? ???? ?? ?? ???? ??? ?? "??? ?? ?? ??? ???? ????? ??? ??? ???? ?????? ?? ?????? ??" ???????? ???????

Replied by radhakishan9@gmail.com at 2019-10-04 03:21:01

1990 dh ckr gS] jkefoykl ikloku dh chdkusj esa lHkk Fkh ! tc eSa nloha d{kk esa Fkk cTtw dLcs ls chdkusj 'kgj budh lHkk esa vk;s Fks gekjs f'k{kd gh ges ysdj vk;s Fks ] igyh ckj 'kgj vk;k Fkk] ge ykbu esa yxs py jgs Fks] f'k{kd gh usrk Fks] ukjs cqyok jgs Fks ! gekjk usrk dSlk gks ! ikloku tSlk gks !! ml le; eq>s HkhM+ vkSj u‚bt esa lqukbZ gh ugha ns jgk Fkk dh cksy D;k jgs gS \ eSaus f'k{kd ls iwNk D;k vkleku tSlk gks cksy jgs gS \ mlus Hkh g¡lrs gq, cksyk] gk¡] tksj tksj ls ;gh cksyks ! ckn esa eap ij fy[kk ns[kk rks irk pyk ;g vkleku ugha Fkk ikloku gS vkSj fdlh dk uke gS ! ml le; u rks bruh le> Fkh] u irk Fkk D;ksa vk;s gS] fdl fy, yk;s x, gS] ij tc jkefoykl ikloku dks lquk rks lqudj cgqr gh vPNk yxk Fkk vkSj ,d vPNh ckr ogka fy[kh ns[kh Fkh tks vktrd ;kn gS "eSa ml ?kj esa nh;k tykus pyk gwa tgka lfn;ksa ls va/ksjk gS" jk/kkfd'ku es?koa'kh

Replied by radhakishan9@gmail.com at 2019-10-04 03:22:27

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :