जनादेश

कभी बंगलूर के लालबाग वाले एमटीआर का भी स्वाद लें ! हालात कहीं और गम्भीर तो नहीं हो रहे हैं ? सब बंद नहीं,बेहतरी के भी कई द्वार खुले ट्रंप को प्रेस कांफ्रेंस सीधी चुनौती देते हैं पत्रकार ! भोजन दिव्य हो भव्य नहीं कोरोना के बाद किस हाल में होंगे हम दक्षिण एशिया में कोरोना का बड़ा स्त्रोत बन गया तब्लीगी जमात शिवराज भाई नमस्कार दूध ,घी और रसगुल्ला जब पानी ही नहीं तो हाथ कहां से धोएं अलबर्ट कामू की पुस्तक दि प्लेग वे तो चार्टर्ड प्लेन से आ गए इंदौर से सबक लीजिए ,बाहर मत निकालिए ऐसे सेनेटाइज करते हैं मजदूरों को मलेरिया क्षेत्र में कोरोना असर बहुत कम ? काम किसका नाम किसका पीएम के नाम दूसरे फंड की जरुरत क्या थी पैदल चला मजलूमों का कारवां ठुमक चलत रामचंद्र बाजत पैंजनियां! डरते डरते जो भी किया उसका स्वागत !

Read Latest Upadte about "पर्यटन"